पुरुष प्याज का ऐसे करें उपयोग तो कमजोरी दूर हो जाएगी

हमारी रसोई गुणों की खान है। हल्दी हो या धनिया या बात करें काली मिर्च और अदरक की सब एक से एक औषधिय गुणों से भरे पड़े हैं। अब प्याज को ही ले लीजिए। प्याज भोजन को केवल स्वादयुक्त ही नहीं बनाता है, बल्कि यह अरुचि और अपच जैसी स्थितियों में भी काफी फायदेमंद होता है। आहार विशेषज्ञों एवं सेक्सुअल रोगों के विशेषज्ञों की मानें तो प्याज भोजन में रूचि को तो बढ़ाता ही है, साथ ही सेक्सुअल दुर्बलता को दूर करने में भी काफी उपयोगी पाया जाता है। सुखी और संतुष्ट वैवाहिक जीवन के लिए सम्भोग शक्ति का प्रबल होना भी आवश्यक है और इसके लिए प्याज एक सरल उपाय है। यौन शक्ति के संवर्धन एवं संरक्षण के लिए प्याज एक सस्ता एवं सुलभ विकल्प है। आइए अब आपको इसके कुछ औषधिय प्रयोगों की जानकारी देते हैं-

 

 

– सफेद प्याज के रस को अदरक के रस के साथ मिलाकर शुद्ध शहद तथा देशी घी सभी के पांच-पांच ग्राम की मात्रा लेकर एक साथ मिलाकर सुबह नियम से एक माह तक सेवन करें और लाभ देखें इससे यौन क्षमता में अभूतपूर्व वृद्धि देखी जाती है।

 

 

-प्याज का रस और शहद बराबर मात्रा में मिलाकर एक शरबत जैसा गाढ़ा द्रव्य प्राप्त करें। अब इसे दस से पंद्रह ग्राम की मात्रा में नियमित सेवन करें। यह योग आपको निश्चत ही यौन स्फूर्ति प्रदान करेगा।

 

 

– कामशक्ति को बढ़ाने हेतु प्याज का एक और प्रयोग निम्नवत है – लाल प्याज पचास ग्राम की मात्रा में लेकर इसे देशी घी पचास ग्राम और ढाई सौ ग्राम दूध मिलाकर गर्म कर नियमित चाटना चाहिए। शीत ऋतु में इस योग को नियमित रूप से दो से तीन बार लिया जाना चाहिए। गर्मियों में इस योग सूर्योदय से पूर्व केवल एक बार करें तो बेहतर है।

 

-जिन्हें शीघ्रपतन (प्री-मेच्युर इजेकुलेशन) की समस्या है ,उन्हें ढाई ग्राम शहद एवं इतना ही प्याज का रस मिलाकर चाटना चाहिए। इस प्रयोग को शीत ऋतु में दो से तीन बार किया जाना चाहिए। ध्यान रहे कि गर्मियों में इस प्रयोग को सूर्योदय से पूर्व केवल एक बार ही किया जाए तो बेहतर है।

 

 

-प्याज को पीसकर गुड मिलाकर खाने से वीर्य (सीमन ) वृद्धि देखी जाती है।

 

 

 

-शीघ्रपतन रोगियों के लिए एक और प्रयोग काफी लाभकारी होता है- सौ ग्राम अजवाइन लेकर सफेद प्याज के रस में भिगोकर सुखा लें,सूख जाने पर पुन: पुन: प्याज के रस में भिगोकर तीन बार सुखाएं। अब अच्छी तरह सूख जाने पर इसका बारीक पाउडर बना लें,अब इस पाउडर को पांच ग्राम की मात्रा में घी और शक्कर की लगभग पांच ग्राम की मात्रा से सेवन करें। इस योग को इक्कीस दिन तक लेने पर शीघ्रपतन में लाभ मिलता है।

 

 

-एक किलो प्याज के रस में आधा किलो उड़द की काली दाल मिलाकर पीस कर पीठी बना लें और इसे सुखा लें, सूख जाने पर पीठी को एक किलो प्याज के रस में पुन: दुबारा पीसें और पुन: दुबारा पीस कर लिख लें। अब इस पीठी को दस ग्राम की मात्रा में लेकर भैंस की दूध में पुन: पकाए और इच्छानुसार शक्कर डाल कर पी जाएं, इस योग का सेवन लगातार तीस दिन तक सुबह शाम सेवन करने से सेक्स स्तम्भन शक्ति बढ़ जाती है।

 

-एक किलो प्याज का रस ,एक किलो शहद के साथ लेकर उसमें आधा किलो शक्कर मिलाकर किसी साफ सुथरे डिब्बे में पैक कर लें। अब इसे पंद्रह ग्राम की मात्रा में एक माह तक रोज नियमित सेवन करें। इस योग के प्रयोग से सेक्सुअल डिजायर में वृद्धि देखी जाती है।

 

-प्याज का रस एक चम्मच,आधा चम्मच शहद मिलाकर पीने से वीर्य की वृद्धि होती है। ये प्याज के कुछ ऐसे प्रयोग हैं, जिनका उपयोग सुलभ ,सस्ता एवं प्रभावी है। बस इनका प्रयोग चिकित्सकीय निर्देशन में हो तो बेहतर है।

 

 

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s